ध्वनि प्रदूषण की सबसे बड़ी वजह होती है सड़कों पर लगातार हॉर्न बजाना. यही वजह है कि ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए एक अलग तरह के अभियान की शुरुआत की गई है.  महाराष्ट्र में आवाज फाउंडेशन ने महाराष्ट्र परिवहन विभाग, रिक्शा यूनियन के साथ मिलकर ध्वनि प्रदूषण को रोकने के लिए नई पहल की है. इस अभियान के अंतर्गत ये सभी संगठन लोगों से सड़कों पर हॉर्न न बजाने की अपील कर रहे हैं. इस अभियान को इन्होंने ‘हॉर्न व्रत’ नाम दिया है.

mumbai
हॉर्न व्रत अभियान के हिस्से के रूप में ऑटो रिक्शा के पूरे बॉडी पर हॉर्न लगे हुए हैं और इसके साथ लोगों से हॉर्न न बजाने की अपील की जा रही है और यह मुंबई के अलग-अलग हिस्सों में जाकर अपील कर रहा है. बता दें कि हॉर्न व्रत कैंपेन की शुरुआत 27 जनवरी 2018 को गेटवे ऑफ इंडिया से शुरू हुआ. हॉर्न व्रत का मतलब है कि हॉर्न बजाने से तौबा करना.